क्रिकेट को किसने आविष्कार किया है ? Who invented cricket in Hindi

Last Updated on December 22, 2019 by Admin

क्रिकेट का इतिहास (History of Cricket) :

हिंदुस्तान में क्रिकेट के बारे में कौन नहीं जनता और कौन उसे पसंद नहीं करता ? चाहे वो गली क्रिकेट हो या वर्ल्ड कप. अगर क्रिकेट की पॉपुलैरिटी के बारे में बात करें तो दुनिया में फुटबॉल के बाद दूसरे नंबर पर क्रिकेट है.

थो क्रिकेट कैसे शुरू हुआ ? किसने शुरू किया ? किस साल में शुरू हुआ  ? ऐसा माना जाता है क्रिकेट की शुरुवात रोमन एम्पायर ख़त्म होने के बाद शुरू हुआ था. और इंग्लैंड के किंग एडवर्ड 2 (King Edward 2) अपने समय में इसे खेला था लेकिन इन सब बातों की कोई सबूत नहीं है.

क्रिकेट की शुरुवाद बाउल्स (Bowls ) गेम को देख कर हुई थी. इस बाउल्स गेम में सिर्फ बॉल को इस्तेमाल करके खेला जाता था. शुरू में क्रिकेट खेलने के लिए एक लकड़ी को अपना बैट (Bat) बनाते और धागे से बनाया गया बॉल (Ball) को या छोटे छोटे कनकर को इस्तेमाल करते थे. विकेट्स के लिए पेड़ या गेट का इस्तेमाल करते.

जवान बच्चों में क्रिकेट (Evidence of earlier cricket) :

क्रिकेट किसने शुरू किया और कौन से साल में शुरू हुआ इसका जवाब देना मुश्किल है लेकिन अंदाज़ा लगाया जा सकता है. इसलिए 16th सेंचुरी में हुई एक घटना के बारे में जान न पड़ेगा. वो ये है, 1597 इंग्लैंड में एक ज़मीन के विवाद को लेकर एक केस दर्ज किया गया था. उस ज़मीन के मालिक होने का दवा 59 साल के कॉरोनर और जॉन डेरिक ने किया था.

उन्होंने कोर्ट को बताया के वो 50 साल पहले 1550 में स्कूल के बाद उनकी इस ज़मीन में क्रिकेट खेला करते थे. क्यों की इस से पहले किसी ने क्रिकेट खेलने का दावा नहीं किया था. इसलिए इस केस के बाद सबसे पहले क्रिकेट खेलने का संधर्ब 1550 बताया गया.

17 वि सदी के शुरू तक क्रिकेट सिर्फ छोटे बच्चे खेला करते थे और सिर्फ टाइम पास गेम था. अब ये गेम बच्चों से बड़ों तक कैसे पहुंचा इसके पीछे छोटा सा किस्सा है. 1611 में दो जवान बच्चों ने रविवार के दिन चर्च को न जाकर क्रिकेट खेलने लगे, इस वजह से उनके ऊपर मुकदमा चलाया गया था.

क्यों की इससे पहले कोई जवान बच्चे का क्रिकेट खेलने का कोई सबूत नहीं  था इसलिए इस केस के बाद सबसे पहले जवान बच्चे क्रिकेट खेलने का पहला संधर्ब माना जाता है. और इसी साल डिक्शनरी ( Dictionary) में भी क्रिकेट वर्ड को जोड़ा गया था .

Also read : Football ka avishkar kisne kiya ?

क्रिकेट के रूल्स (Cricket Rules) :

अगर क्रिकेट के नियम के बारे में बाथ करें थो 18 वि सदी के शुरू में क्रिकेट के नियम कुछ इस तरह थे. 2 टीम अपने बट्स को लेकर ग्राउंड में आते, उस ज़माने में बट्स आज जैसे नहीं थे. पिच पर दोनों तरफ विकेट्स लगते और सिक्के का का इस्तेमाल करके टॉस करते. जो टॉस जीत था वो बैटिंग करता.

बोलिंग आज जैसे ऊपर से नहीं निचे से ज़मीन पर बॉल को फ़ेंक कर डाला जाता. उस ज़माने में एक ओवर के सिर्फ चार बॉल हुआ करते, अंपायर विकेट्स के खरीब रहते और रन्स को एक छोटे से टीले पर निशान लगा कर लिख देते.

1889  में ओवर में 4 बॉल से 5 बॉल कर दिये गए थे. कुछ देशों ने 1922 में एक ओवर में 8 बॉल्स कर दिये लेकिन सेकंड वर्ल्ड वॉर के बाद 1947 से एक ओवर में 6 बॉल्स का नियम बनाया गया.

उस ज़माने का हाईएस्ट स्कोर 40 था. क्यों की बोलिंग निचे ज़मीन पर बॉल को फ़ेंक कर की जाती इसलिए ज़्यादा रन नहीं बना पाते थे. पैड्स सेफ्टी के लिए नहीं थे इसलिए काफी चोट भी होते थे.

1770 में बॉल को पिच करके डालना शुरू किया जिसकी वजह से बैट्समैन को शॉट लगाने के लिए आसानी हुई. बोलर्स को भी बोलिंग में स्पिन जैसे नए तारीखे लाने का मौखा मिला. अगर बोलिंग स्टाइल की बाथ करें थो बोलर्स पहले अंडर आर्म (Under arm ) बोलिंग करते थे. इसके बाद राउंड आर्म (round arm) बोलिंग करने लगे. 1880 में ओवर आर्म बोलिंग सबसे ज़्यादा इस्तेमाल करने लगे.

19th सेंचुरी में क्रिकेट बहुत पॉपुलर होने लगा धीरे धीरे बहुत सारे नियम में बदलाव आगया.बैट के अंदर भी बहुत सारे बदलाव किये गए .1774 में लेग बिफोर लॉ और थर्ड स्टंप का नियम लाया गया. बॉल का साइज, पैड्स और ग्लव्स जैसे चीज़ें बेहतर से बेहतर बनने लगी. 1870’s में पहली बार बौंडरीएस की शुरुआत हुई थी. बौंडरीएस का नियम आने से पहले बैट्समैन हर बॉल को हिट करने के बाद रन लेना पड़ता था.

क्रिकेट क्लब्स (Cricket clubs) :

दुनिया का सबसे पहला क्रिकेट क्लब 1760 में बना था. बाद में मारलीलेबोने क्रिकेट क्लब Marylebone Cricket Club (एमसीसी ) बनाया गया. जो क्रिकेट के नियम और निभंधन को बनाता है और बहुत सारे कामों को अंजाम देता है. और आज International cricket council (ICC), एमसीसी के बहुत सारे कार्यों को संभालता है.

इंग्लैंड के बाद क्रिकेट नार्थ अमेरिका पहुंचा. 18th सेंचुरी तक क्रिकेट इंग्लैंड के बाद धीरे धीरे बहुत सरे देशों में पहुँच गया. और इंडिया में क्रिकेट का परिचय ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने करवाया.

इस तरह बहुत सारे बदलाव के बाद क्रिकेट आज जैसा बना.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*